Patzad (पतझड़)


पतझड़ 

झड जायेंगे पत्ते सारे, आनेवाली पतझड़ में
तुम रहना साथ यूँही मेरे, जाना चारो मौसम में
तुम जो साथ हो मेरे मुझे बहारो की क्या जरुरत है
साथ तुम्हारे जानेमन पतझड़ भी खुबसूरत है


- दीपबाझीगर 
                                                         

Comments

  1. Sun shines and I hope everything is fine......nice pic!!!

    From: www.sriramnivas.com

    ReplyDelete
  2. Wonderful words Sriram,
    Thanks a lot :)

    ReplyDelete
  3. awesome...bahut achi lines hai झड जायेंगे पत्ते सारे, आनेवाली पतझड़ में
    तुम रहना साथ यूँही मेरे, जाना चारो मौसम में
    तुम जो साथ हो मेरे मुझे बहारो की क्या जरुरत है
    साथ तुम्हारे जानेमन पतझड़ भी खुबसूरत है
    liked it a lot! nd nce click:)

    ReplyDelete

Post a Comment

Popular posts from this blog

Kashedi Ghat Ghost

Swaroop Paha, Vishwaroop Pahu Naka

Deepbaazigar versus Stocksbaazigar